दुनिया की पहली दवाई ट्रेन- लाइफलाइन एक्सप्रेस

आज हम आपको बता रहे है, लाइफलाइन एक्सप्रेस के बारे में। अभी तक आपने सुना होगा बजट ट्रेन, स्पेशल ट्रेन आदि । एक ट्रेन हॉस्पिटल ट्रेन भी है । इसमें आपको दवाइयां मिलती है। ये दुनिया की एकमात्र ऐसी ट्रेन है।

लाइफलाइन एक्सप्रेस

लाइफलाइन एक्सप्रेस 1991 से लगातार चल रही है। यह ट्रेन दूर-दूर रह रहे गाँवो तक जरुरी दवाइयों को पहुचाती है । जिन लोगो को दवाई नहीं मिल पाती, उनके लिए ये बहुत अच्छी सेवाहै। इस सेवा को शुरुआत में गैर सरकारी संस्था ने शुरू किया था। अब यह ट्रेन भारतीय रेल और स्वस्थ्या मंत्रालय द्वारा संचालित है ।
dhasu news
लाइफलाइन एक्सप्रेस लगभग पुरे देश में घूमती है। हर स्टेशन में यह लगभग 21 दिन तक रूकती है। जिससे वहां के सभी जरुरत मंद लोगो को इस सेवा का फ़ायदा मिल सके। अभी लाइफलाइन एक्सप्रेस ने 25 साल पुरे किये। इसने अभी तक लगभग 100000 लोगो का इलाज करके उन्हें ठीक किया है। इस सेवा में अंधेपन, सुनने की परेशानी, मस्तिष्क संबंधी, और ह्रदय संबंधी बीमारियां ठीक की है।

इस ट्रेन की सबसे अच्छी बात यह है कि इलाज बिलकुल मुफ्त है। यहाँ दवाइयों के लिए आपको कोई पैसा खर्च नहीं करना। इस सेवा में सरकार के आलावा कोई भी हिस्सेदार बन सकता है। अगर आप जन सेवा करना चाहते है। तो आप इस ट्रेन में निकल पड़िये और करिये ऐसे लोगो की जिन्हें आपकी ज्यादा जरुरत है। क्योंकि अभी भी कुछ ऐसे लोग है जो जरुरत मंद लोगो की सेवा करना चाहते है। यह साडी सुविधाएं ही लाइफलाइन एक्सप्रेस को यूनिक ट्रेन बनाता है।
लाइफलाइन एक्सप्रेस का 2016 का कार्यक्रम
• 2 अगस्त से 22 अगस्त तक: भटकल, कर्नाटक
• 1 सितम्बर से 21 सितम्बर तक: गोलपाड़ा, असम
• 5 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक: अज़मेर, राजस्थान
• 9 नवम्बर से 29 नवम्बर तक: कालाहांडी, उड़ीसा
• 10 दिसंबर 30 दिसंबर तक: मोहाली, पंजाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: